पं0 शेखर दीक्षित युवा किसान नेता, सामाजिक कार्यकर्ता(किसान सेवा) एवं राष्ट्रीय किसान मंच के अध्यक्ष हैं।

17 वर्ष की आयु से, पं0 शेखर दीक्षित ने पर्यावरण की समस्याओं के बारे में जागरूकता बढ़ाना शुरू किया और वन आदिवासी मुद्दों को मुख्यधारा की बहस में लाना शुरू किया। 2002 में उन्होंने तत्कालीन केंद्रीय मंत्री अलाउद्दीन खान के साथ उत्तर प्रदेश के पूर्वी जिलों और बिहार के सीमांचल के गांवों का दौरा किया। अखिल भारतीय ब्राह्मण सभा ने पर्यावरण और सामाजिक मामलों पर अपनी चिंता के लिए 2004 में दीक्षित को सम्मानित किया। उन्हें अखिल भारतीय ब्राह्मण सभा उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष के रूप में भी नियुक्त किया गया था।

पं0 शेखर दीक्षित